27.6 C
Uttarakhand
Wednesday, July 17, 2024

9 लाख कमाने वाली ये खूबसूरत मॉडल है असल में एक AI Modal!

सोशल मीडिया की दुनिया में तहलका मचाने वाली स्पेन की सबसे चर्चित हस्ती ऐटाना (Aitana) असल में एक कृत्रिम बुद्धिमत्ता (AI Modal) मॉडल है! जी हां, आपने बिल्कुल सही पढ़ा| 25 साल की गुलाबी बालों वाली यह खूबसूरत लड़की असल में कोई वास्तविक व्यक्ति नहीं है, बल्कि द क्लूलेस एजेंसी के दिमाग की उपज है|

AI Modal ने बदली मार्केटिंग की दिशा:-

रूबेन क्रूज़, द क्लूलेस एजेंसी के संस्थापक, पारंपरिक प्रभावशाली (influencer) मार्केटिंग की कमियों से तंग आ चुके थे. असहयोगी रवैये और अनिश्चित फीस से परेशान होकर उन्होंने क्रांति लाने का फैसला किया. इस तरह स्पेन की पहली AI मॉडल ऐटाना का जन्म हुआ|

कमाई और लोकप्रियता का धमाका:-

ऐटाना अपने रचनाकारों के अनुसार हर महीने €10,000 (लगभग ₹9 लाख) तक कमाती है, हालांकि औसत कमाई €3,000 (लगभग ₹2.67 लाख) के आसपास रहती है| वह प्रति विज्ञापन €1,000 से अधिक कमाती है और साथ ही एक स्पोर्ट्स सप्लीमेंट कंपनी का समर्थन भी कर रही है| यही नहीं, उसकी कमाई का एक और जरिया OnlyFans के समान ही प्लेटफॉर्म Fanvue पर अपलोड की गईं तस्वीरें है जहा वो लिंगरी वाली तस्वीरें अपलोड करती है|

ऐटाना के इंस्टाग्राम पर 3 लाख से ज्यादा फॉलोअर्स हैं, और उसकी तस्वीरों को हजारों व्यूज और रिएक्शन मिलते हैं| असल में बहुत से लोग उसे असली इंसान समझते हैं, यहाँ तक कि एक मशहूर अभिनेता ने भी उसे डेट पर चलने के लिए मैसेज किया था|

वास्तविकता और कल्पना का मिश्रण:-

ऐटाना का अस्तित्व वास्तविकता और कल्पना के बीच की रेखा को धुंधला देता है| उसका भौतिक रूप कृत्रिम बुद्धिमत्ता और डिजाइन विशेषज्ञता की रचना है, लेकिन उसका वर्चुअल व्यक्तित्व जीवन से भरपूर लगता है, जिसे एजेंसी टीम द्वारा सावधानीपूर्वक तैयार किया गया है| उसके साप्ताहिक कारनामों से लेकर अंतरंग मुलाकातों तक, ऐटाना के अस्तित्व के हर पहलू को उसके फॉलोअर्स के साथ जुड़ने के लिए सावधानी के साथ बहुत ध्यान से गढ़ा गया है|

भविष्य के ब्रांड इन्फ्लुएंसर्स:-

क्रूज़ एक ऐसे भविष्य की कल्पना करते हैं जहां ब्रांड आसानी से अपने अभियानों में AI Modal को शामिल कर सकें, जो मानव के अहंकार और अत्यधिक शुल्क की सीमाओं से मुक्त हों| क्रूज़ ने जोर देकर कहा, “वे ऐसा ब्रांड इमेज चाहते हैं जो उनके ब्रांड मूल्यों का प्रतिनिधित्व करे, न कि मानव प्रभावशाली की जटिलताओं से ग्रस्त हो”

और पढ़ें :-Kantara 2: Rishabh Shetty ने दिया बड़ा अपडेट, पहले पार्ट से भी ज्यादा होगा रोमांच

आलोचना और जवाब:-

हालांकि, आलोचकों का तर्क है कि अवास्तविक सौंदर्य मानकों को कायम रखने से सामाजिक दबाव बढ़ सकता है और युवाओं के बीच अस्वस्थ जुनून को बढ़ावा मिल सकता है. फिर भी, क्रूज़ का कहना है कि ऐटाना केवल वास्तविक प्रभावशाली और ब्रांडों द्वारा विकसित सौंदर्यशास्त्र को दर्शाती है. “यथास्थिति को चुनौती देने के लिए, हमें सबसे पहले ब्रांडों की दृष्टि को फिर से परिभाषित करना होगा,” क्रूज़ ने घोषणा की|

Follow us on Google News Follow us on WhatsApp Channel
Dheeraj Negi
Dheeraj Negihttps://chaiprcharcha.in/
Dheeraj Negi एक Working Professional हैं उन्होंने अपनी ग्रेजुएशन कंप्यूटर-साइंस में पूरी की है उनकी रूचि हमेशा से ही नए Gadgets और नयी टेक से रिलेटेड चीज़ों के बारे में पढ़ने और उनके बारे में जानकारी रखने में रही है वे "चाय पर चर्चा" न्यूज़ पोर्टल में विभिन्न टेक से रिलेटेड ताज़ा और विश्वसनीय समाचार प्रदान करते हैं

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

42FansLike
15FollowersFollow
1FollowersFollow
60SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles